Keyword क्या होता है

आज की इस पोस्ट में आपको Keyword क्या होता है और Keyword कितने प्रकार के होते हैं यह जानने को मिलेगा

अगर आप ब्लॉगिंग के fields में नए आए हैं और आप SEO के बारे में सीख रहे हैं तो आपने Keyword शब्द बहुत बार सुना होगा हूँ और आप जानना चाहते होंगे कि Keyword क्या होता है तो आज किस पोस्ट में आपको Keyword के बारे में Complete जानकारी जानने को मिलेगा इसलिए यह पोस्ट को अंत तक पढ़ते रहिए।

Keyword क्या होता है

जब आपको किसी चीज के बारे में इंटरनेट से जानकारी लेनी होती है तो सबसे पहले आप किसी भी सर्च इंजन जैसे गूगल यूट्यूब में उस चीज से रिलेटेड शब्द या वाक्य को सर्च इंजन में लिखकर या बोलकर सर्च करते हैं और जो शब्द या वाक्य हम सर्च करते हैं उसे ही Keyword कहते हैं

उदाहरण के तौर पर जैसे किसी को On Page SEO के बारे में जानना है तो वह किसी भी सर्च इंजन में सर्च करेगा On page SEO क्या है या On page SEO कैसे करें इत्यादि।

Keyword का SEO में क्या फायदे हैं

Blogging के फील्ड में अगर आपको एक सफल कैरियर बनाना है तो आपको सबसे पहले SEO सिखना बहुत ज़रूरी है और जिसमें से Keyword भी एक SEO का पाठ है.

SEO के हिसाब से अपने वेबसाइट की article में आप अगर Keyword का placement सही तरीके से करेंगे तो आपकी website जल्द ही गूगल के फर्स्ट पेज में रैंक करने का चांस बढ़ जाता है.

इसलिए SEO में Keyword का महत्त्व बहुत ज़्यादा है।

Types of Keyword in SEO

1. Short tail Keyword- जिस Keyword की लंबाई 1 से 3 words की हो उसे short tail Keyword कहते हैं.

जैसे-SEO, Best laptops, mobile tracker online इत्यादि।

2. Long tail Keyword- जिस Keyword की words की लंबाई 3 words से ज़्यादा हो उसे Long tail Keyword कहते हैं.

जैसे-How to earn money online, How to find long tail Keyword, वेबसाइट की स्पीड कैसे बढ़ाएँ etc।

Focus keyword क्या होता है

जिस किसी Keyword पर हम अपनी आर्टिकल को रैंक करवाना चाहते हैं उसे फोकस Keyword कहते हैं फोकस Keyword हम अपने main title में यूज करते हैं और अपनी पूरी आर्टिकल को फोकस Keyword को टारगेट करते हुए लिखते हैं।

Keyword Density क्या है

किसी भी आर्टिकल में एक Keyword को कितनी बार यूज किया गया है उसके घनत्व को ही कीवर्ड डेंसिटी कहते हैं.

उदाहरण के तौर पर आपने जैसे 100 words का कोई आर्टिकल लिखा है और उस आर्टिकल में आपने 5 बार एक ही keywoard का इस्तेमाल किया है तो आपके article की कीवर्ड डेंसिटी 5 परसेंट होगा आपको अपनी content में तीन परसेंट से ज़्यादा Keyword का इस्तेमाल नहीं करनी चाहिए।

Keyword stuffing क्या है

यह एक ऐसी टेक्निक है जिसमें लोग गूगल के algorithm को manipulate करके गूगल सर्च रिजल्ट में फर्स्ट पेज पर अपनी वेबसाइट को रैंक करवाना चाहते हैं.

आर्टिकल में बहुत सारे Keyword का यूज करना, अपने आर्टिकल से अन्य रिलेटेड Keywords का content में use करना, same Keywords को बार-बार बिना ज़रूरत के रिपीट करना यह सभी Keyword stuffing में आता है।

इससे आपकी post गूगल की फर्स्ट पेज में जल्दी rank कर जाता है लेकिन बाद में जब Google को पता चलता है तो गूगल ऐसी website की ranking डाउन कर देता है इसलिए आपको वेबसाइट की पोस्ट में Keyword stuffing करने से बचना चाहिए।

LSI Keyword क्या होता है

LSI का फुल फॉर्म Latent Sementic Indexing होता है इससे Google को एग्जेट पता चलता है कि आपके article किस बारे में है

इस टेक्नोलॉजी से गूगल आपकी वेबसाइट की पोस्ट का यह पता लगाता है कि आपके पोस्ट में जो Keyword का यूज़ किया गया है वह आपके content से मैच कर रहा है कि नहीं अगर कीवर्ड और content के बीच सही रिलेशन नहीं मिलता है तो Google उस पोस्ट की रैंकिंग को डाउन कर देता है।

Blog की Post में Keyword का placement सही से कैसे करें

Keyword को सही से अपने content में placement करने के लिए निम्नलिखित टिप्स का follow करें।

1. अपनी post की title में Main focus keyword का यूज़ करें।

2. permalink में Keyword का उपयोग करें।

3. Meta Description में focus keyword यूज करें।

4. Image Alt tag में

5. Heading ओर Subheadings में Keyword का प्रयोग करें।

6. Article के फर्स्ट पैराग्राफ और लास्ट प्रोग्राम में मैन focus keyword का यूज़ करें।

Conclusion

मुझे उम्मीद है कि आपको यह पोस्ट Keyword क्या है पसंद आया होगा और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया फ़ेसबुक व्हाट्सएप पर शेयर करें धन्यवाद।

यह भी पढ़ें-

SEO क्या है – What is SEO in Hindi

Plagiarism क्या  है और Best free Plagiarism checker tools

 

Leave a Comment