सब इंस्पेक्टर कैसे बने

सब इंस्पेक्टर कैसे बने– सब इंस्पेक्टर का पद भारतीय पुलिस सेवा की एक अहम ‌पद है अगर आप सब इंस्पेक्टर बनना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण है
सब इंस्पेक्टर की नौकरी के लिए लिखित परीक्षा के साथ शारीरिक परीक्षा भी पास करना पड़ता है.
बहुत सारे स्टूडेंट्स सब इंस्पेक्टर बनना चाहता है लेकिन उसकी सही गाइडलाइंस नहीं मिलने के कारण वह इस नौकरी को पाने में असफल हो जाते है तो आज के इस लेख में आपको सब इंस्पेक्टर कैसे बने और सब इंस्पेक्टर बनने की संपूर्ण जानकारी इस लेख में दी जाएगी इसलिए पोस्ट को अंत तक पढ़ते रहिए।

सब इंस्पेक्टर कैसे बने

सब इंस्पेक्टर बनने के लिए आपको सबसे पहले किसी भी सब्जेक्ट से ग्रेजुएट होना ज़रूरी है सब इंस्पेक्टर वेकेंसी केंद्र और राज्य स्तरीय दोनों पर निकलती रहती हैं आपको सब इंस्पेक्टर की वैकेंसी कब निकलता है यह जानने के लिए गूगल में सर्च करके पता लगा सकते हैं SI की फॉर्म निकलने के बाद आपको ऑनलाइन फॉर्म भरना पड़ेगा उसके बाद आपको लिखित परीक्षा देने की अनुमति मिलेगी।
सब इंस्पेक्टर की भर्ती कर्मचारी चयन आयोग के द्वारा विभिन्न केंद्रीय सशस्त्र बलों के लिए CRPF, ITBP, SSB, CISF, BSF और Delhi Police (CPO) में कुशल उम्मीदवार की बहाली की जाती है।
और राज्य स्तरीय बहाली राज्य सरकार के द्वारा निकाली जाती है।

सब इंस्पेक्टर का काम क्या है

सीनियर ऑफिसर के द्वारा दिए गए कार्यों को करना अपराध को रोकने का काम करना और अपराध करने वाले का पहचान करना ही मुख्य कार्य एक सब इंस्पेक्टर का है।
किसी केस की जांच जब सब इंस्पेक्टर के द्वारा किया जाता है तो उस केस का चार्ज शीट भी कोर्ट में सब इंस्पेक्टर के द्वारा दाखिल किया जाता है।

सब इंस्पेक्टर की तैयारी कैसे करें

किसी भी सरकारी नौकरी को आज के समय हासिल करने के लिए आपको भीड़ की चाल से अलग हटकर स्मार्ट तरीके से तैयारी करनी पड़ेगी
क्योंकि आज के समय सरकारी नौकरी हासिल करना बहुत ही कठिन है क्योंकि दिन प्रतिदिन कंपटीशन tough हो रहा है इसलिए आपको कड़ी मेहनत करना पड़ेगा।
SI की तैयारी के लिए सबसे पहले आपको इसका सिलेबस का अध्ययन करना होगा इसके बाद आपको एक टाइम टेबल बनाकर प्रतिदिन हर एक सब्जेक्ट का गहन अध्ययन करना होगा
और इस परीक्षा को पास करने के लिए आपको शरारिक परीक्षा की तैयारी शुरू से ही करना चाहिए।

सब इंस्पेक्टर बनने के लिए क्या योग्यता चाहिए

शैक्षणिक योग्यता

भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक की डिग्री या इसके समकक्ष योग्यता होना ज़रूरी है।

Sub inspector age limit

SI बनने के लिए अभ्यर्थियों का 20 से 25 वर्ष के बीच में age होनी चाहिए.
वहीं SC ST कैंडिडेट को उम्र में 5 वर्ष का छूट दी जाती है और OBC कैंडिडेट को 3 वर्ष का छूट मिलती है।

Sub inspector Syllabus

सब इंस्पेक्टर का सिलेबस केन्द्र स्तर की भर्ती और राज्य स्तर की भर्ती का सिलेबस अलग-अलग है हम यहां पर आपको केन्द्र स्तर की भर्ती का सिलेबस बता रहे हैं।
केन्द्र स्तर की भर्ती में 2 पेपर होते हैं पेपर 1 और पेपर 2
पेपर 1 से 200 नंबर का 200 क्वेश्चन पूछा जाता है और 2 घंटे का समय मिलता है जिसमें रिजनिंग के 50 क्वेश्चन जीके जीएस का 50 क्वेश्चन, मैथ का 50 क्वेश्चन इंग्लिश से 50 क्वेश्चन पूछे जाते हैं पेपर वन में पास करने के बाद पेपर टू में बैठने को अनुमति मिलती है.
पेपर 2 में इंग्लिश लैंग्वेज एंड कंप्रीहेंशन से 200 क्वेश्चन 200 नंबर का पूछा जाता है यह परीक्षा भी 2 घंटे का होता है पेपर 1और पेपर 2 दोनों में ऑब्जेक्टिव टाइप क्वेश्चन पूछे जाते हैं।

Sub inspector selection process

लिखित परीक्षा

सबसे पहले लिखित परीक्षा ली जाती है लिखित परीक्षा में पास करने वाले अभ्यार्थियों का शरारिक परीक्षा और चिकित्सा परीक्षा ली जाती है।

फिजिकल टेस्ट

Physical Standard Test (PST)

  • पुरुष अभ्यर्थियों का न्यूनतम हाइट 170 सेंटीमीटर और चेस्ट बिना फुलाए 80 सेंटीमीटर, फुलाकर 85 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • महिला अभ्यर्थियों का हाइट 157 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • ST कैटेगरी के अभ्यर्थियों का न्यूनतम हाइट 162.5 सेंटीमीटर होनी चाहिए।

Physical Endurance Test (PET)

  • पुरुष अभ्यर्थियों को 16 सेकंड में 100 मीटर और 6.5 मिनट में 1.6 किलोमीटर दौड़ना पड़ेगा।
  • पुरुष अभ्यर्थियों को लंबी कूद 3.65 मीटर और ऊंची कूद 1.2 मीटर तीन चांस में पास करना पड़ेगा।
  • महिला अभ्यर्थियों को 18 सेकंड में 100 मीटर और 4 मिनट में 800 मीटर दौड़ना पड़ेगा।
  • महिला अभ्यर्थियों को लंबी कूद 2.7 मीटर और ऊंची कूद 0.9 मीटर तीन चांस में पास करना पड़ेगा।
  • महिला अभ्यर्थियों के लिए चेस्ट मेजरमेंट के लिए कोई मिनिमम रिक्वायरमेंट नहीं है।

चिकित्सा जांच परीक्षा (Medical Fitness Test)

अभ्यार्थियों की पूरा शरीर सही रूप से चेक किया जाता है और बिल्कुल सही पाए जाने के बाद ही फिट घोषित किया जाएगा।
  • अभ्यार्थियों के पैर का मुड़ा घुटना, धनु पैर समतल पैर और स्पीत शिरा नहीं रहना चाहिए।
  • पैरों और हाथों की अंगुलियों उचित ढंग से घूमना चाहिए।
  • किसी भी तरह का आंखों में बीमारी जैसे दृष्टि दोष कलर ब्लाइंडनेस नाइट ब्लाइंडनेस नहीं होनी चाहिए।
  • कानों की सुनने की शक्ति अच्छी होनी चाहिए।
  • किसी भी तरह की ज़ुबान में हकलाहट नहीं होनी चाहिए
  • हाइड्रोसील पाइल्स की बीमारी नहीं होनी चाहिए।
  • किसी भी तरह की संक्रामक रोग अभ्यार्थियों के शरीर में मौजूद होना नहीं चाहिए।
  • मानसिक रूप से अभ्यर्थी बिल्कुल स्वस्थ होनी चाहिए।

दस्तावेज सत्यापन (Document Verification)

शरारिक परीक्षा और मेडिकल टेस्ट पास करने के बाद अभ्यर्थियों का डाक्यूमेंट्स की जांच की जाती है इसके बाद ही फाइनल सिलेक्शन किया जाता है।

सब इंस्पेक्टर की सैलेरी कितनी होती है

एक सब इंस्पेक्टर की सैलरी बहुत ही अच्छी खासी मिलती है सब इंस्पेक्टर की स्टार्टिंग मंथली सैलेरी ₹35400 है उसके बाद SI की सैलरी बढ़ती रहती है।

निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है कि अब आपको सब इंस्पेक्टर कैसे बने पता चल गया होगा और यह पोस्ट अगर आपको पसंद आया तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ फ़ेसबुक व्हाट्सएप ग्रुप में ज़रूर शेयर कर दे धन्यवाद।

Leave a Comment